Monday , June 25 2018

अंक शास्‍त्र के ये नौ अंक बता देंगे आपकी लव मैरिज होगी या अरैंज

शादी एक पवित्र बंधन होता हैं, जो दो परिवारों के बीच का संगम होता हैं, जो दो परिवार वालों के बीच जुड़ता हैं, इसी के साथ वास्तुशास्त्र और अंकों का खेल भी निराला होता हैं, शादी का फैसला बहुत ही सोच समझकर करना चाहिए। आज हम आपको अंकों के आधार पर बताएंगे कि आपकी लव मैरिज होगी या फिर अरेंज मैरिज आइए जानते है।

यह भी पढ़ें :- सिर्फ इस जड़ को रखने से पैसे तो पेड़ पर ही उगेंगे, जब चाहो तोड़ लो

अंक 1 सूर्य का माना जाता हैं, ज्योतिष की मानें तो मूलांक 1 वाले लोग काफी शर्मीले स्वभाव के होते हैं। ऐसे लोग कभी भी प्यार की पहल नहीं करते। इसी कारण ये लव मैरिज से अछूते रह जाते।

अंक 2 चन्द्रमा का होता हैं, 2 मूलांक वाले लोगों को प्यार काफी धीरे-धीरे होता है। अगर ये एक बार इस ओर गंभीर हो गए तो प्रेम विवाह करके ही मानते हैं।

अंक 3 गुरु का माना जाता है। तीन मूलांक वाले लोग लव मैरिज में अकसर सफल रहते हैं। हालांकि इन्हें थोड़े सहयोग की जरूरत होती है।

अंक 4 राहु का माना जाता हैं जो कि एक से अधिक लोगों के साथ प्रेम करता है। अत: ये लोग कभी भी प्रेम विवाह के प्रति गंभीर नहीं रहते।

यह भी पढ़ें :- वास्‍तु उपाय : एक चुटकी नमक भी ऐसे बदल सकता है आपकी किस्‍मत

अंक 5 बुध का माना जाता हैं, ऐसे लोग पारंपरिक रिश्तों को निभाने में यकीन रखते हैं। ये लोग परिवार की सहमति से ही विवाह करते हैं।

अंक 6 का अंक शुक्र का प्रेम विवाह के लिए ही बना है। मूलांक 6 वाले एक से अधिक प्रेम संबंधों में रहते हैं। इसलिए कभी-कभी सही इंसान को खो देते हैं।

अंक 7 का अंक केतु का माना जाता है। ये लोग संकुचित स्वभाव के एवं काम से काम रखने वाले होते हैं। ये प्रेम विवाह करना तो चाहते हैं लेकिन अपने स्टेट्स के अनुसार।

यह भी पढ़ें :- अगर आपके हाथ में भी है ये सब तो बर्बाद होने में नहीं लगेगा टाइम

अंग 8 का अंक शनि का होता है। ऐसे लोगों के बहुत कम प्रेम संबंध रहते हैं। लेकिन अगर किसी से प्रेम कर लें तो फिर मरते दम तक प्यार निभाते हैं

अंग 9 का अंक मंगल का माना जाता हैं, प्रेम में विवाद तो होता ही है, ये लोग प्रेम के प्रति उदासीन रहते हैं। दिल में इच्छा बहुत होती है, लेकिन डरते भी बहुत है।

loading...