Monday , June 24 2019

अभी-अभी : बीजेपी की बढ़ीं मुश्किलें, एक और सांसद हुई सरकार के खिलाफ

लखनऊ। यूपी के बहराइच से बीजेपी सासंद सावित्री बाई फुले ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। रविवार को उन्होंने लखनऊ के कांशीराम स्मृति उपवन में भारतीय संविधान व आरक्षण बचाओ महारैली का आयोजन किया है। रैली की शुरुआत उन्होंने कांशीराम को फूल चढ़ाकर की।

Also Read : यूपी में दरिदंगी की सारी हदें पार, 6 साल की मासूम को भी नहीं बख्‍शा

फुले ने यह रैली केंद्र सरकार की दलित विरोधी नीतियों के खिलाफ शुर की है। इस मौके पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि आरक्षण कोई भीख नहीं बल्कि प्रतिनिधित्व का मामला है। उन्होंने सरकार को चेताते हुए कहा कि अगर किसी भी तरह से आरक्षण को खत्म करने का प्रयास किया गया तो देश में खून की नदियां बह जाएंगी।

Also Read : सीएम योगी के नाम लिखा सुसाइड नोट, और खुद को लगा ली आग

रैली में बोलते हुए सावित्री बाई फुले ने कहा कि आरक्षण हमारे बाबा साहेब अंबेडकर का दिया हुआ अधिकार है। यह किसी और के बाप-दादा या भगवान की जागीर नहीं है। बीजेपी सांसद ने कहा कि इस रैली में प्रदेश के प्रत्येक जिले व गांव शहर से बड़ी तादाद में बहुजन मूलनिवासी समाज के महिला पुरुष शामिल हुए हैं।

Also Read : यूपी में हुआ सबसे बड़ा एक्‍शन, एक ही रात में बदल गया बहुत कुछ

महारैली में बहुजन मूलनिवासी समाज के लोग तथा नेतागण एवं संगठनों के लोग सादर आमंत्रित हैं। बता दें कि इससे पहले फुले ने अपनी ही सरकार व पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा है था कि केंद्र सरकार आरक्षण खत्म करने की साजिश कर रही है।

loading...