Thursday , October 18 2018

अभी-अभी : भारत की जीडीपी में एकदम से आया भारी उछाल, मनमोहन सिंह की बोलती बंद

नई दिल्‍ली। भारत और मोदी सरकार के लिए खुशखबरी है। पिछले कुछ समय से देश की अर्थव्यवस्था में जारी गिरावट को लेकर सरकार को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा था। वहीं विपक्ष ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा था। कांग्रेस ने इसका कारण नोटबंदी और जीएसटी को बताया था। मगर पिछली बार की तुलना में इस बार जीडीपी ग्रोथ रेट यानी सकल घरेलू उत्पाद की विकास दर में वृद्धि देखने को मिली है।

Also Read : जिनके दम पर राहुल गांधी जीतना चाहते थे गुजरात चुनाव, उन्हें उठा ले गई पुलिस

देश की जीडीपी में वृद्धि हुई है। खबर मिली है कि देश की जीडीपी दर बढ़कर 6.3 प्रतिशत हो गई है। इससे पहले 5.7 फीसदी थी। गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले यह खबर बीजेपी के लिए काम की साबित हो सकती है। त्‍योहारी सीजन के मद्देनजर आर्थिक गतिविधियां तेज होने और एक जुलाई से जीएसटी लागू होने के बाद इनवेंट्री बनाने के लए बढ़े उत्‍पादन से अर्थव्‍यवस्‍था में तेजी लाने में मदद मिली है।

Also Read : राहुल गांधी दे रहे थे भाषण– अचानक स्टेज पर चढ़ आया BJP नेता, फिर जो हुआ दंग कर देगा

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने जो आंकड़ें जारी किए किए हैं उनकी मानें तो भारत की जीडीपी वृद्धि चालू वित्‍त वर्ष की दूसरी तिमाही में बढ़कर 6.3 प्रतिशत रही जो अप्रैल-जून तिमाही में 5.7 प्रतिशत और जनवरी-मार्च तिमाही में 6.1 प्रतिशत थी।

हालांकि, जुलाई-सितंबर में विकास की रफ्तार पिछले साल की समान तिमाही के 7.3 प्रतिशत की तुलना में कम है। उम्‍मीदों के विपरीत प्रदर्शन करने के बावजूद दूसरी तिमाही के जीडीपी वृद्धि दर चीन से पीछे है। भारत अभी भी चीन के बाद दुनिया की दूसरी सबसे तेजी से विकसित होती प्रमुख अर्थव्‍यवस्‍था बना हुआ है।

Also Read : गुजरात चुनाव से ठीक पहले आए सबसे बड़े उपचुनाव के नतीजे, सभी पार्टियों के उड़े होश

पिछले वित्‍त वर्ष की आखिरी तिमाही में भारत ने तेजी से विकसित होती प्रमुख अर्थव्‍यवस्‍थाओं की लिस्‍ट में पहला स्‍थान चीन के हाथों गंवा दिया था, जब जीडीपी विकास दर घटकर 6.1 प्रतिशत रह गई थी। आपको बता दें कि जीएसटी के बाद देश की विकास दर में आई गिरावट पर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार को निशाने पर लिया था, लेकिन अब जीडीपी में हुए सुधार पर अभी तक वह मौन हैं।

loading...