Wednesday , August 22 2018

अभी-अभी : राष्‍ट्रपति ने भी दी मंजूरी, केजरीवाल के 20 विधायक अयोग्य करार

नई दिल्‍ली। लाभ का पद मामले में आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को राष्ट्रपति ने अयोग्य घोषित कर दिया है। वहीं केंद्रीय कानून मंत्रालय ने भी इन विधायकों की अयोग्यता का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। आपको बता दें कि चुनाव आयोग ने राष्ट्रपित से सिफारिश की थी कि आम आदमी पार्टी के 21 विधायकों ने 13 मार्च 2015 से 8 सितंबर 2016 तक लाभ का पद रखा था।

Also Read : हुआ विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल, रिजल्‍ट देखकर आपके भी उड़ जाएंगे होश

आम आदमी पार्टी ने अपने 21 विधायकों को दिल्ली सरकार के विभिन्न मंत्रालयों में संसदीय सचिव नियुक्त किया था। इन 21 विधायकों में से 1 विधायक ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था इसलिए चुनाव आयोग का फैसला 20 विधायकों पर लागू होता है।

Also Read : हिमालय पर दिखा ‘ॐ’, वैज्ञानिकों का दावा- आ रहा है सबसे बड़ा खतरा

इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा है कि यह आप के भ्रष्टाचार का नमूना है। केजरीवाल ने 28 लोगों को मंत्री बना रखा था। यह करप्शन का बड़ा नमूना था। उन्होंने कहा कि यह बीजेपी, आम आदमी पार्टी और चुनाव आयोग की सांठगांठ के चलते यह फैसला देरी से हुआ। यदि यह निर्णय 3 सप्ताह पहले आ जाता तो आप के यह 20 विधायक राज्यसभा चुनावों में वोट नहीं कर सकते थे।

Also Read : लग गई मुहर, इस राज्‍य में सीएम कैंडिडेट पर बीजेपी ने लिया सबसे बड़ा फैसला

वहीं बीजेपी नेता गौरव भाटिया ने कहा है कि केजरीवाल भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए राजनीति में आए थे को अब उनको पद पर बने रहने का कोई हक नहीं है। इसके साथ ही आप के बागी नेता कपिल मिश्रा ने कहा है कि केजरीवाल ने संविधान का उल्लंघन किया है। केजरीवाल को अपने काम पर भरोसा है तो चुनाव का सामना करें।

 

loading...