Monday , December 18 2017
Breaking News

अभी-अभी : लग गई मुहर, इस शख्‍स के एक आर्डर पर आ जाते हैं पीएम मोदी

मुंबई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में एक ब्रांड बने हुए हैं। हर कोई उनसे एक बार मिलने का सपना पाले बैठा रहता है, लेकिन एक शख्‍स ऐसा भी है जिसके एक आर्डर पर पीएम मोदी खुद चले आते हैं। जी हां, शिव प्रतिष्ठान संस्था चलाने वाले संभाजी भिडे गुरुजी किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं।

Also Read : गुजरात चुनाव में पीएम मोदी ने खेला सबसे बड़ा दांव, दंग रह गई कांग्रेस पार्टी

गुरुजी के रूतबे का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे मिलने के लिए सुरक्षा घेरा तोड़ दिया था। संभाजी भिडे महाराष्ट्र के सांगली जिले से आते हैं। वे पुणे यूनिवर्सिटी से एमएससी (एटॉमिक साइंस) में गोल्ड मेडलिस्ट हैं। इसके अलावा वे मशहूर फर्ग्युसन कॉलेज में फिजिक्स के प्रोफेसर रह चुके हैं।

हाल ही में पुलिस इंस्पेक्टर द्वारा लूट के कथित आरोपी की हत्या के बाद उसकी बॉडी जलाने के मामले के विरोध में सांगली में उग्र आंदोलन किया गया। इसी दौरान संभाजी भिडे ने पुलिस की आलोचना करते हुए कहा कि पुलिस थाने सरकार मान्य गुंडों के अड्डे बने हुए हैं।

Also Read : रात में होटलों के बाहर कूड़े में पड़ा खाना उठाता है ये आईएएस, वजह कर देगी हैरान

खाली पैर बिना चप्पल के साईकिल पर चलने वाले दुबले पतले ये बुजुर्ग दिखने में तो आम आदमी हैं लेकिन इनका रुतबा जान कर आप हैरान रह जाएंगे। इनका रुतबा इतना है कि प्रधानमंत्री से लेकर महाराष्ट्र के सीएम तक इनका ऑर्डर मानते हैं। गुरु जी के नाम मशहूर संभाजी भिडे जो महाराष्ट्र के सांगली जिले से आते हैं। पुलिस इंस्पेक्टर द्वारा आरोपी की हत्या कर शव जलाने के मामले में उग्र प्रदर्शन करने के बाद वे हाल ही में सुर्खियों में छाए हुए हैं।

बता दें कि गुरूजी के नाम से मशहूर संभाजी पुणे यूनिवर्सिटी से एमएससी (एटॉमिक साइंस) में गोल्ड मेडलिस्ट हैं। इसके अलावा वे मशहूर फर्ग्युसन कॉलेज में फिजिक्स के प्रोफेसर रह चुके हैं। शिवाजी महाराज को अपना आदर्श मानने वाले गुरुजी को महाराष्ट्र में लोगों का जबरदस्त समर्थन है। लोकसभा चुनाव के दौरान जब मोदी सांगली आए थे तो सुरक्षा घेरा तोड़कर भिडे गुरुजी से मिले थे।

Also Read : लग गई मुहर, गुजरात चुनाव से ठीक पहले ये सबसे बड़ा ऐलान करेगी मोदी सरकार

यही नहीं, रैली में मोदी ने तो यह तक कहा था कि वह भिडे गुरुजी के बुलावे पर नहीं आए हैं। बल्कि उनका ऑर्डर मानकर सांगली आए हैं। शिव प्रतिष्ठान संस्था चलाने वाले भिडे गुरूजी का रुतबा मोदी तक ही सीमित नहीं है। एक बार तो महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फड़णवीस ने उनसे मिलने के लिए अपना प्लेन तक रुकवा दिया था।

उम्र 85 के पार होने के बावजूद साइकिल पर चलने वाले गुरुजी आज भी तंदरूस्त हैं। उनके बारे में कहा जाता है कि वो पैरों में चप्पल तक नहीं पहनते हैं। कहा जाता है कि गुरुजी ने आजतक जिस भी नेता का चुनाव में समर्थन किया उसकी जीत हुई है। हालांकि, गुरुजी कभी किसी राजनीतिक दल से नहीं जुड़े। सबसे बड़ी बात तो यह कि नेताओं के बीच दबदबा होने के बावजूद उनका ना तो खुद का घर है और ना ही किसी तरह की संपत्ति।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *