Saturday , August 24 2019

आज होगा नीतीश मंत्रिमंडल का विस्तार, इन चेहरों को मिलेगी सरकार में जगह

पटना। बिहार में महागठबंधन के टूटने के बाद बिहार में एनडीए वाली नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का विस्‍तार आज शाम पांच बजे होगा। बता दें कि बीते दिन विधानसभा में सरकार ने विश्‍वास मत हासिल कर लिया था। इसके बाद बारी अब मंत्रिमंडल विस्‍तार की थी।

यह भी पढ़ें :- बहुमत पास करते ही नीतीश ने पीएम मोदी को दिया तगड़ा झटका, नहीं बदलेंगे अपना फैसला!

इसी को लेकर पटना में मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के घर पर एक बैठक की गर्इ। इस बैठक में मंत्रियों के नामों पर विचार किया गया। बैठक में जेडीयू की ओर से सीएम नीतीश के साथ जेडीयू प्रदेश अध्‍यक्ष वशिष्‍ठ नारायण सिंह और पार्टी सांसद आरसीपी सिंह शामिल रहे।

वहीं बीजेपी की ओर से बैठक में डिप्‍टी सीएम सुशील कुमार मोदी के साथ बीजेपी के प्रदेश अध्‍यक्ष नित्‍यानंद राय और बीजेपी नेता नंद किशोर यादव शामिल रहे। बैठक के बाद बताया जा रहा है कि इस मंत्रिमंडल में जेडीयू-बीजेपी-एलजेपी और आरएलएसपी के विधायकों को जगह मिल सकती है।

यह भी पढ़ें :-  बिहार के ‘नमो’ ने पास की अग्निपरीक्षा, विधानसभा में साबित किया बहुमत

खबर है कि नए मंत्रियों को आज शाम शपथ दिलाई जाएगी। पिछले दो दिनों से अस्पताल में भर्ती राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी को आज अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी, जिसके बाद ही शपथ ग्रहण समारोह होगा। सूत्रों के मुताबिक, जेडीयू के 19 और बीजेपी के 16 मंत्री शपथ ले सकते हैं।

बताया जा रहा है कि बीजेपी की ओर से नंद किशोर यादव, प्रेम कुमार, मंगल पांडे, रजनीश कुमार और ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू को मंत्री पद की शपथ दिलाई जाएगी। वहीं जेडीयू की तरफ से विजेंद्र प्रसाद यादव, लल्लन सिंह, लेसी सिंह, जयकुमार सिंह, श्रवण कुमार, पी के शाही और रणवीर नंदन मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं।

यह भी पढ़ें :- लग गई मुहर, इस तारीख से आपकी जेब में होगा 200 रुपए का नया नोट

इसके साथ ही खबर यह भी है कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी भी नीतीश के मंत्रिमंडल में शामिल हो सकते हैं। इसके अलावा एलजेपी और आरएलएसपी से एक-एक मंत्री होंगे। बता दें कि नीतीश कुमार ने 26 जुलाई 2017 की शाम को बिहार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देकर महागठबंधन तोड़ने का ऐलान किया था।

वहीं इसके अगले ही दिन नीतीश ने बीजेपी के समर्थन से छठी बार बिहार के सीएम पद की शपथ ली। 28 जुलाई को नीतीश ने 131 विधायकों के समर्थन के साथ बिहार विधानसभा में बहुमत साबित कर दिया।

loading...