Monday , June 25 2018

इन राशियों पर आएगी मुसीबत, 7 मार्च की शाम होगा इस ग्रह का राशि परिवर्तन

7 मार्च की शाम 06:28 पर मंगल धनु राशि में प्रवेश करेगा और 2 मई को शाम 04:17 तक वहीं पर रहेगा। मंगल मेष और वृश्चिक राशि का स्वामी है। वहीं मकर राशि में यह उच्च का और कर्क राशि में यह नीच का होता है। मंगल की शुभ स्थिति में व्यक्ति शक्तिशाली और साहसी बनता है। शरीर में नाभि के आस-पास का क्षेत्र मंगल का माना जाता है।

Also Read : आज बन रहा है सबसे बड़ा नक्षत्र, इन दो उपायों से बन जाएंगे मालामाल

मंगल के धनु राशि में इस गोचर से विभिन्न राशियों पर भी अलग-अलग प्रभाव होगा। तो आइए जानते हैं कि किस राशि वालों को मंगल के इस गोचर से क्या फल मिलेंगे…

मेष राशि : मंगल का यह गोचर आपके नवें स्थान, यानी भाग्य स्थान पर होगा। अतः मंगल के इस गोचर से आपको हर तरह का सुख मिलेगा और भाग्य का पूरा साथ मिलेगा। वहीं बड़े भाई का साथ आपकी किस्मत के सितारे को और भी बुलंद कर देगा। 7 मार्च से 2 मई के बीच शस्त्र, चिकित्सा और कृषि के व्यवसाय आदि से जुड़े लोगों को धन लाभ होगा। जो लोग प्रशासनिक सेवाओं में कार्यरत हैं, उन्हें किसी अन्य पद की प्राप्ति भी हो सकती है।

वृष राशि : आपके आठवें स्थान पर मंगल का यह गोचर 2 मई तक के लिये आपको अस्थाई रूप से मांगलिक बना देगा। दरअसल जन्मपत्रिका में पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें स्थान पर मंगल के गोचर से जातक मांगलिक कहलाता है। ऐसे में अगर आप विवाहित हैं तो आपको इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि क्या आपके जीवनसाथी की जन्मपत्रिका में भी मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें जा रहा है। अगर हां, तो ठीक है, अन्यथा मंगल के इस गोचर के उपाय आपको जरूर करने चाहिए। साथ ही अगर आपका कोई छोटा भाई है तो 2 मई तक उसकी सेहत का ख्याल रखने की आवश्यकता है।

मिथुन राशि : मंगल आपके सातवें स्थान पर गोचर करेगा। सातवें स्थान पर मंगल का यह गोचर वृष राशि वालों की तरह आपको भी 2 मई तक के लिये टेम्पेरेरी तौर पर मांगलिक बना देगा। अतः अगर आप विवाहित हैं तो आपको इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि क्या आपके जीवनसाथी की जन्मपत्रिका में भी मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें जा रहा है। अगर ऐसा है तो ठीक, वरन् सतर्क होकर इस गोचर के उपाय आपको जरूर करने चाहिए। मंगल के इस गोचर से धार्मिक कार्यों में और साथ ही गणित विषय में आपकी रुचि बढ़ेगी।

कर्क राशि : मंगल आपके छठे स्थान पर गोचर करेगा। मंगल के इस गोचर से समाज में आपकी ताकत बढ़ेगी और 7 मार्च से 2 मई के बीच आपका परिचय समाज के कुछ अच्छे लोगों से होगा, जिसका फायदा आने वाले समय में आपको जरूर मिलेगा। मंगल का यह गोचर आपके भाइयों और दोस्तों के लिए भी शुभ संकेत लेकर आया है। लेकिन अगर आपके जन्म के समय मंगल नीचे राशि में था, तो यह समय आपके लिए कठिन है। आपको आग से बचना चाहिए।

Also Read : अभी देखें, कहीं आपकी भी कुंडली में तो नहीं है इस ग्रह की ये स्थिति

सिंह राशि : पांचवें स्थान पर मंगल के इस गोचर से आपको संतान का सुख मिलेगा। आपकी बौद्धिक क्षमता में बढ़ोतरी होगी और आपको गुरु का पूरा साथ मिलेगा। साथ ही दाम्पत्य जीवन में भी मधुरता रहेगी। 2 मई तक आप जो भी काम करेंगे, उसका पांच गुना फल आपको मिलेगा। अतः जो भी कार्य करें, सोच-समझकर करें। साथ ही अपनी सेहत का ख्याल रखें।

कन्या राशि : मंगल आपके चौथे स्थान पर गोचर करेगा। मंगल के इस गोचर से आपको भूमि-भवन, वाहन का सुख मिलेगा और माता का सहयोग मिलेगा। आपकी संतान और भाइयों को भी शुभ फल प्राप्त होंगे। लेकिन यहां एक अन्य बात पर गौर करना चाहिए, जैसा कि मैंने अभी पहले भी आपको बताया है कि जन्मपत्रिका में पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें स्थानपर मंगल का गोचर जातक को मांगलिक बनाता है। अतः कन्या राशि वालों चौथे स्थान पर मंगल का यह गोचर आपको 2 मई तक के लिए अस्थायी रूप से मांगलिक बना देगा। वहीं अगर आप विवाहित हैं तो इस बात पर भी ध्यान दें कि क्या आपके जीवनसाथी की कुंडली में मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें जा रहा है। अगर हां… तो ठीक है, अन्यथा सतर्क होकर इस गोचर के उपाय आपको जरूर करने चाहिए।

तुला राशि : मंगल आपके तीसरे स्थान पर गोचर करेगा। मंगल के इस गोचर से आपका गृहस्थ जीवन ठीक रहेगा। आप दूसरों की हर संभव मदद करेंगे। 2 मई तक आपकी तरक्की भी इस बात पर डिपेंड करेगी कि दूसरे लोगों के साथ आपका व्यवहार कैसा होगा। अगर आप अपने स्वभाव में नम्रता बनाये रखेंगे, तो 7 मार्च से 2 मई तक आपको किसी प्रकार का कष्ट नहीं होगा। साथ ही ससुराल पक्ष से आर्थिक लाभ भी मिलेगा, लेकिन इस दौरान ध्यान रहे कि किसी से भी कर्ज न लें।

वृश्चिक राशि : दूसरे स्थान पर मंगल का यह गोचर आपके लिए मिले-जुले परिणाम लेकर आयेगा। आपको आर्थिक रूप से लाभ होगा, लेकिन आया हुआ पैसा अधिक समय तक आपके पास नहीं टिकेगा। भाईयों से जितना अधिक प्यार बनाकर रखेंगे, उतना ही अधिक आपको लाभ प्राप्त होगा। वैसे संतान का पूरा सुख आपको मिलेगा।

धनु राशि : आपके पहले स्थान पर मंगल के इस गोचर से आपका स्वास्थ्य बेहतर रहेगा और शत्रुओं से आपको बिल्कुल भी परेशानी नहीं होगी। ‘मित्राणां उदयस्तव’, यानी आपके मित्रों का उदय होगा। साथ ही भाई-बहनों से हर कदम पर सहयोग मिलेगा। पॉलिटिक्स से जुड़े लोगों के साथ ही लोहा, लकड़ी, मशीनरी आदि का काम कर रहे लोगों को भी आर्थिक रूप से फायदा मिलेगा। लेकिन यहां एक बार फिर से बता दूं कि जन्मपत्रिका के चौथे, सातवें, आठवें और बारहवें स्थान पर मंगल का गोचर जातक को मांगलिक बनाता है। अतः धनु राशि वालों पहले स्थान पर मंगल के इस गोचर से आप 2 मई तक टेम्पेरेरी रूप से मांगलिक कहलायेंगे और अगर आप विवाहित हैं तो इस बात का भी ध्यान रखें कि क्या आपके जीवनसाथी की जन्मपत्रिका में मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें जा रहा है। अगर ऐसा है तो ठीक, वरन् आपको सतर्कता से मंगल के इस गोचर के उपाय करने चाहिए।

Also Read : कहीं आपकी भी तो नहीं है इनमें से कोई राशि, नहीं तो रह जाएंगे तरसते

मकर राशि : बारहवें स्थान पर मंगल के इस गोचर से आपके पास धन की कमी नहीं होगी और आप प्रभावशाली होंगे। लेकिन 2 मई तक आपको अपने खर्चों और अपने गुस्से पर कंट्रोल रखना चाहिए। साथ ही ये भी जान लीजिये कि जन्मपत्रिका में पहले, चौथे, सातवें और आठवें घर की तरह बारहवें घर में भी मंगल का गोचर जातक को मांगलिक बनाता है। अतः मकर राशि वालों को बारहवें स्थान पर मंगल का यह गोचर 2 मई तक के लिये अस्थायी रूप से मांगलिक बना देगा। अगर आप विवाहित हैं तो इस बात पर भी ध्यान दें कि क्या आपके जीवनसाथी की जन्मपत्रिका में मंगल पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें जा रहा है। अगर हां, तो ठीक है, अन्यथा सतर्क होकर आपको मंगल के इस गोचर के उपाय जरूर करने चाहिए।

कुंभ राशि : आपके ग्यारहवें स्थान पर मंगल के इस गोचर से आप साहसी और न्यायप्रिय होंगे, आध्यात्मिक विचारों के प्रति आपकी आस्था बढ़ेगी। 7 मार्च से 2 मई के बीच आपके साथ-साथ आपके माता-पिता को भी आर्थिक रूप से लाभ होगा। साथ ही पशुपालक और व्यापारी वर्ग को भी कई तरह से फायदे मिलेंगे। हालांकि इस दौरान आपको अपनी सेहत का ख्याल रखने की आवश्यकता है।

मीन राशि : दसवें स्थान पर मंगल के इस गोचर से आपके कदम जहां भी जायेंगे, वहां तरक्की ही तरक्की होगी। आपका गृहस्थ जीवन सुखी होगा और सेहत भी ठीक रहेगी। साथ ही आपकी अचल सम्पत्ति में इजाफा हो सकता है। लेकिन ध्यान रहे अगर आपके घर में सोना रखा है तो इस दौरान उसे लॉकर में रखवाना ही उचित होगा।

loading...