Sunday , October 21 2018

एक और वादा किया पूरा, पीएम मोदी ने आज देश को दिया सबसे बड़ा तोहफा

लेह। कश्मीर घाटी को लद्दाख क्षेत्र से हर मौसम में जोड़ने वाली एशिया की सबसे लंबी और सामरिक रूप से महत्वपूर्ण जोजिला सुरंग परियोजना की पीएम नरेंद्र मोदी ने आज आधारशिला रखी। इससे श्रीनगर और लेह के बीच फिलहाल लगने वाले 3.5 घंटे का समय से घटकर महज 15 मिनट हो जाएगा।

14.2 किलोमीटर लंबी इस जोजिला सुरंग के निर्माण से लेह, करगिल और श्रीनगर के बीच हर मौसम में कनेक्टिविटी बनी रहेगी। 6,809 करोड़ रुपये की लागत वाली जोजिला सुरंग परियोजना 7 साल में पूरी होगी। इस अवसर पर आयोजित एक समारोह में पीएम मोदी ने कहा कि सभी तीनों क्षेत्रों में आज 25,000 करोड़ रुपये की लागत से परियोजनाओं का या तो उद्घघाटन किया जाएगा या उनकी आधारशिला रखी जाएगी।

उन्होंने कहा कि यह राज्य के तेजी से विकास की ओर केंद्र और प्रदेश सरकारों की प्रतिबद्धता दिखाता है। मोदी ने अपनी सरकार बनने के बाद देश में चल रहे विकास कार्यों पर कहा कि 18,000 गांवों को 1,000 दिनों के भीतर बिजली मुहैया कराई गई। इन गांवों को आजादी के बाद से बिजली नहीं मिली थी। बता दें कि पाकिस्तान और चीन के साथ सीमा साझा करने वाले इस क्षेत्र में मोदी की यह दूसरी यात्रा है।

आपको बता दें कि जोजिला दर्रा श्रीनगर-करगिल-लेह राष्ट्रीय राजमार्ग पर 11,578 फुट की ऊंचाई पर स्थित है और सर्दियों में भारी हिमपात के कारण बंद हो जाता है जिससे लद्दाख क्षेत्र का कश्मीर से सड़क संपर्क टूट जाता है। इस परियोजना में 14.15 किलोमीटर लंबी सुरंग बनाने का लक्ष्य है जिसमें दोनों तरफ से वाहनों की आवाजाही होगी।

श्रीनगर से 450 किलोमीटर उत्तर में स्थित लेह में मोदी इससे पहले 12 अगस्त 2014 को आए थे और तब उन्होंने एक जल विद्युत परियोजना का शुभारंभ किया था। हवाईअड्डे पर पहुंचने के बाद आगे जाने से पहले प्रधानमंत्री सड़क पर रुके और उन्होंने स्वागत के लिए आए लोगों से मुलाकात की। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि मैं गर्मजोशी भरे स्वागत के लिए लेह के शानदार लोगों का आभार जताता हूं। मैं यहां आकर बेहद खुश हूं।

loading...