Wednesday , February 21 2018

कर लीजिए तैयारी, इस विभाग में बिना इंटरव्‍यू होने वाली हैं चार हजार भर्तियां

यूपी में 4000 लेखपालों की भर्ती की तैयारी है। राजस्व परिषद नगर निकाय चुनाव की आचार संहिता खत्म होने के बाद लिखित परीक्षा से भर्ती की योजना पर काम कर रहा है।

Also Read : भारतीय रेलवे ने निकाली बंपर भर्तियां, यहां जाकर अभी करें आवेदन

राजस्व परिषद के एक अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में इस समय लेखपालों के करीब 3000 पद खाली हैं। लेखपालों को पदोन्नति का ज्यादा अवसर देने के लिए राजस्व निरीक्षक की भर्ती में सीधी भर्ती की व्यवस्था खत्म की जा चुकी है।

अब राजस्व निरीक्षक के सभी पद पदोन्नति से ही भरे जाएंगे। करीब 1000 लेखपाल दिसंबर तक राजस्व निरीक्षक बन जाएंगे। इससे करीब 1000 पद और खाली हो जाएंगे। इस तरह लेखपाल के 4000 पद भर्ती के लिए उपलब्ध होंगे।

Also Read : डाक विभाग में पांच हजार से ज्‍यादा पदों पर हो रही भर्तियां, ऐसे करें आवेदन

प्रदेश में राजस्व लेखपाल की भर्ती में इंटरव्यू का झंझट खत्म हो चुका है। लेखपालों की भर्ती लिखित परीक्षा से होगी। पहले लेखपालों की भर्ती में इंटरव्यू हमेशा चर्चा का विषय रहता आया है। कभी 10 नंबर तो कभी 20 नंबर का इंटरव्यू रहा। एक बार तो इंटरव्यू 40 नंबर का कर दिया गया। लेकिन करीब डेढ़  दशक बाद सपा सरकार ने 2015 में 12 हजार से अधिक लेखपालों की भर्ती कराई थी।

यह परीक्षा 80 नंबर की लिखित और 20 नंबर के इंटरव्यू के साथ हुई थी। लिखित परीक्षा टीसीएस ने कराई थी और इंटरव्यू जिलाधिकारियों के स्तर से हुए थे। योगी सरकार ने समूह ‘ग’ की भर्तियों से इंटरव्यू खत्म कर दिया है। ऐसे में लेखपाल भर्ती अब सीधे लिखित परीक्षा के जरिए होगी।

Also Read : मेट्रो में नौकरी करने का सबसे बड़ा मौका, जल्‍द करें आवेदन

राजस्व परिषद के एक अधिकारी ने बताया कि परिषद रिक्त पदों को लंबे-लंबे समय तक खाली रखने के पक्ष में नहीं है। इससे कर्मियों पर अनावश्यक कार्य का भार बढ़ता है। वर्ष वार रिक्तियों के हिसाब से भर्ती की योजना है।

निकाय चुनाव की आचार संहिता दिसंबर के पहले सप्ताह तक संपन्न हो जाने की संभावना है। तब तक भर्ती के लिए शासन की अनुमति सहित सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली जाएंगी। आचार संहिता खत्म होने के बाद रिक्त पदों पर भर्ती की जाएगी।

loading...