Monday , May 28 2018

बेबस मुलायम ने अखिलेश के सामने टेके घुटने, बोले- मेरे पास अब कुछ नहीं बचा

mulayam-singh-yadav-759नई दिल्‍ली। समाजवादी पार्टी में विवाद के बाद सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने सीएम और बेटे अखिलेश के आगे घुटने टेक दिए हैं। ऐसी खबरें आ रही हैं कि मुलायम सिंह ने कहा है कि अखिलेश मेरा ही बेटा है। जो कर रहा है उसे करने दो। उन्‍होंने कहा कि मेरे पास तो अब कुछ नहीं बचा। मेरे पास तो गिनती के विधायक ही बचे हैं।

वहीं सीएम और बेटे अखिलेश के खिलाफ मुलायम कुछ भी नहीं बोले, हां यह जरूर कहा कि कई जगह सड़कों का विकास हुआ है तो उसमें पीडब्ल्यूडी मिनिस्टर शिवपाल यादव का भी योगदान है। कुछ इस तरह मुलायम ने शिवपाल की तारीफ कर दी। उस वक्त शिवपाल साथ ही बैठे थे।

इसके बाद अमर सिंह भी आ गए। जैसे ही अमर सिंह आए तो मुलायम सिंह ने सुर बदले हुए कार्यकर्ताओं से कहा कि चुनाव की घोषणा हुए 4 दिन हो चुके हैं। अब समय बिल्कुल नहीं है। अब कुछ नहीं होने वाला, आप लोग चुनाव की तैयारियों में जुटिए। जिन उम्मीदवारों की मैंने घोषणा की है, उनको जिताने के लिए मैदान पर उतर जाइए। साइकिल के लिए काम करिए। इसी बीच अमर सिंह ने कहा कि मैं जो भी बोला हूं या बोल रहा हूं, समझ लीजिए वह नेताजी बोल रहे हैं और जो नेताजी बोल रहे हैं, वही मैं बोल रहा हूं। मैं नेताजी का प्रतिनिधि हूं।

पार्टी पर दावा ठोकने के लिए मुलायम खेमा सोमवार को चुनाव आयोग में हलफनामा दाखिल करेगा। इससे पहले शनिवार को रामगोपाल यादव ने दावा किया कि सपा में 90 फीसदी से ज्यादा नेता और कार्यकर्ता अखिलेश के समर्थन में हैं। उन्होंने कहा कि कुल 5731 में 4716 प्रतिनिधियों के हलफनामे भी हम चुनाव आयोग में दायर करेंगे।

चुनाव आयोग में हलफनामा दाखिल करने की आखिरी तारीख 9 फरवरी है। आयोग ने दोनों पक्षों को अपने-अपने कागजात 9 जनवरी तक जमा करने को कहा है। अखिलेश खेमा पहले ही आवश्यक कागज जमा कर चुका है।

loading...