Monday , April 22 2019

भारतीयों को करारा झटका, अब सऊदी अरब में नहीं मिलेगी नौकरी

नई दिल्‍ली। सऊदी अरब में नौकरी के सपने देखने वाले भारतीयों को आज करारा झटका लगा है। दरअसल सऊदी अरब भी अब अमेरिका, ऑस्‍ट्रेलिया और ब्रिटेन की राह पर चलता हुआ नजर आ रहा है। सऊदी अरब ने भी इन देशों की तरह अपने देश में विदेशी नागरिकों को नौकरी न देने का फैसला किया है।

यह भी पढ़ें :- सीबीआई में बंपर भर्तियों के लिए मांगे आवेदन, जल्‍द करें अप्‍लाई

इसको लेकर बताया जा रहा है कि सऊदी अरब सरकार अब केवल अपने ही नागरिकों को शॉपिंग मॉल्‍स जैसी जगहों पर नौकरी पर रखेगी। आपको बता दें कि सऊदी अरब सरकार के इस फैसले का सबसे ज्‍यादा प्रभाव भारत, पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश के नागरिकों पर पड़ेगा।

यह भी पढ़ें :- दसवीं और बारहवीं पास के लिए सरकारी नौकरी का मौका, सैलरी 63 हजार रुपए

सऊदी अरब इन दिनों अपनी इकॉनमी को कच्चे तेल पर आधारित रखने की बजाय अन्य उद्योगों के विकास में जुटा है। बताया जा रहा है कि इस लॉन्ग टर्म इकॉनमिक पॉलिसी के तहत ही सऊदी सरकार ने यह फैसला लिया है।

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसा करने से सऊदी अरब के नागरिकों को करीब 35 हजार नौकरी के नए अवसर प्राप्त होंगे। सऊदी श्रम मंत्री खालिद अबा अल खैल ने एक अरेबियाई चैनल को बताया कि कंपनियों को विदेशी श्रम अनुबंध पर फैसला लेने के लिए पूरा समय दिया जाएगा

यह भी पढ़ें :- देश सेवा का सबसे बड़ा मौका, बीएसएफ, सीआरपीएफ, सीआइएसएफ और एसएसबी में वैकेंसियों की भरमार

पिछले साल की चौथी तिमाही में सऊदी नागरिकों की बेरोजगारी दर बढ़कर 12.3 फीसदी हो गई थी, जो पहले साल में 11.5 फीसदी थी। इसके अलावा सऊदी महिलाओं का बेरोजगारी दर 34.5 प्रतिशत है। मंत्रालय ने ये भी कहा कि महिलाओं से जुड़े सामान बेचने वाले दुकानों में सऊदी महिलाओं को ही प्राथमिकता दी जानी चाहिए।

loading...