Sunday , September 22 2019

मोदी के लिए खड़ी हुई बड़ी मुश्किल, उपराष्‍ट्रपति चुनाव में विपक्ष को मिला बड़ा साथ

नई दिल्ली। देश में पांच अगस्‍त को उपराष्‍ट्रपति पद के लिए चुनाव होना है। इस पद के लिए इस बार विपक्ष ने अपने उम्‍मीदवार के रूप में महात्‍मा गांधी के पौत्र गोपालकृष्‍ण गांधी को मैदान में उतारा है। वहीं एनडीए ने वेंकैया नायडू को अपना उम्‍मीदवार घोषित किया है।

यह भी पढ़ें :- पूरे विपक्ष को लगा तगड़ा झटका, एनडीए में शामिल होगी देश की तीसरी सबसे बड़ी पार्टी

इससे पहले पिछले महीने हुए राष्‍ट्रपति चुनाव में विपक्ष की उम्‍मीदवार मीरा कुमार को भारी मतों से हार का सामना करना पड़ा था। इसी को देखते हुए उपराष्‍ट्रपति चुनाव में विपक्ष दोबारा इस गलती को नहीं दोहराना चाहता इस‍‍लिए वह सभी विपक्षी पार्टियों से समर्थन जुटाने में लगा हुआ है।

आपको बता दें कि बिहार के मुख्‍यमंत्री नी‍तीश कुमार भले ही अब महागठबंधन तोड़कर एनडीए के पाले में चले गए हैं लेकिन उपराष्‍ट्रपति चुनाव में वह और उनकी पार्टी विपक्ष के उम्‍मीदवार का ही समर्थन करेगी। वहीं दूसरी ओर अब विपक्ष को एक और पार्टी का साथ मिल गया है।

यह भी पढ़ें :- लग गई आरएसएस की मुहर, शाह के बाद अब ये नेता हो सकता है बीजेपी का अगला राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष

दरअसल दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने उपराष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष को समर्थन देने की घोषणा कर दी है। केजरीवाल ने गोपाल कृष्ण गांधी को उपराष्ट्रपति चुनाव में समर्थन देने की घोषणा की है।

केजरीवाल ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। देश के अगले उपराष्ट्रपति के लिये पांच अगस्त को चुनाव होने हैं। दिल्ली के सीएम ने ट्वीट कर लिखा कि आप उपराष्ट्रपति के लिये श्री गोपालकृष्ण गांधी का समर्थन करेगी।

यह भी पढ़ें :- मोदी सरकार में शाह को मिलेगा ये सबसे अहम मंत्रालय, अध्‍यक्ष पद से देंगे इस्‍तीफा

कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों की ओर से उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए साझा उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी ने मंगलवार शाम मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उनके घर जाकर मुलाकात की थी। मुलाकात में उन्होंने केजरीवाल से समर्थन मांगा। दोनों के बीच बातचीत के बाद अरविंद केजरीवाल ने गांधी को समर्थन देने की घोषणा की।

loading...