Monday , March 25 2019

लखनऊ में ‘ख्वाहिश’ प्रदर्शनी का आगाज़

होली आने वाली है और ऐसे में सभी शॉपिंग का प्लान बनाना शुरू कर दिये हैं। वहीं होली के खास मौके पर लखनऊ के रेड हॉल में फैशन और लाइफस्टाइल ‘ख्वाहिश’ प्रदर्शनी एक होली स्पेशल संस्करण आयोजित कर दिया गया है। यह प्रदर्शनी 13 मार्च तक चलेगी।
बता दें कि यह ख्वाहिश का तीसरा संस्करण है जिसे इस होली सीजन में आयोजित किया जा रहा है। वहीं इससे पहले भी दो संस्करण का आयोजन हो चुका है जिसे ग्राहकों ने काफी पसंद भी किया था। अब देखना यह है कि ख्वाहिश कातीसरा संस्करण लोगों को कितना भाता है।
ख्वाहिश प्रदर्शनी के होली स्पेशल संस्करण की खासियत
 ‘ख्वाहिश वह प्रदर्शनी है जो लोगों के लिए हाथ से तैयार किए गए उत्पादों यानि हैंडमेड चीजों को बढ़ावा देता है। लोग बच्चों के संग्रह के लिए कुछ अच्छे शैक्षिक खिलौने और पुस्तकों के साथ-साथ एक अच्छी वसंत गर्मियों के संग्रह की उम्मीद कर सकते हैं। यह प्रदर्शनी पहले के संस्करण में काफी सफल साबित रही है जिसमें प्रदर्शकों और ग्राहकों से काफी अच्छी प्रतिक्रिया मिली है।
ख्वाहिश प्रदर्शनी के संस्थापक सोनल जैन कहती हैं कि, ‘आप प्रदर्शनी से 30 से अधिक तरह की चीजें देखने को मिलेंगी जैसे महिलाओं के फ़ैन्सी कपड़े, पुरुषों के कपड़े, बच्चे के कपड़े और यहां तक कि खूबसूरत डिज़ाइन वाले आभूषण साथ ही कई अन्य चीजें। यानि आपको कुछ न कुछ जरूर अपने काम का मिल जाएगा। इसके पीछे उन्होने मुख्य कारण बताया कि ऐसी प्रदर्शनी के माध्यम से ग्राहको  को हाथ से बनी हुई चीजें मिलेंगी साथ ही से घर से काम करने वाली महिलाओं को अपने उत्पादों को बेचने के लिए एक बेहतरीन मौका मिलेगा।
आपको बता दें कि होली के खास मौके पर फैशन और लाइफ़स्टाइल की खरीदारी के लिए वन-स्टॉप-शॉप के रूप में डिज़ाइन की गई इस प्रदर्शनी में आप नि: शुल्क प्रवेश कर सकते हैं और अपने पसंद की चीजों को आसानी से खरीद सकते हैं। इस प्रदर्शनी के जरिए पारंपरिक पहनावे पर खासा ध्यान केंद्रित किया जाएगा वहीं पश्चिमी वस्त्र ब्रांडों की भी सुविधा उपलब्ध होगी।
गौरतलब है कि ख्वाहिश का पिछला संस्करण भी उसी स्थान पर हुआ था और जिसमें तमाम अच्छे प्रदर्शक हिस्सा बने थे।
आरजी ज्वैलर्स, स्नैप्स अटायर, साउथ ज्वैलरी आश्वी बुटीक और निसा द फ़ैशन हब जैसे विशेष ब्रांड की वस्तुएं आपको मिलेंगी। वहीं प्रदर्शनकारियों ने बेहतरीन प्रदर्शनी का वादा किया है।
loading...