Monday , December 18 2017
Breaking News

सबसे बड़ी वजह है ये, जिस कारण लड़कियों के इशारों पर नाचते हैं लड़के

अक्सर हम सभी सुनते हैं कि लड़के लड़कियों के इशारों पर नाचते हैं। शादी के बाद अक्सर सभी मर्द अपनी पत्नियों के इशारों पर ही नाचते पाए जाते हैं। यहाँ तक की शादी से पहले भी लड़कों को अपने गर्लफ्रेंड की बातें ज्यादा मानते हुए पाया गया है। कुछ लोग इसे प्यार समझते हैं लेकिन इसे प्यार समझने की भूल ना करें, क्यूंकि इसके पीछे बहुत ही गहरा राज छिपा है, जिस पर से आज हम पर्दा उठाने जा रहे हैं। पुरुषों के स्त्रियों के इशारों पर नाचने के पीछे एक अहम कारण है जिसके बारे में आज हम आपको बताने जा रहें हैं, तो आइये जाने क्या है ये कारण।

Also Read : फ्री कंडोम की होम डिलवरी के लिए यहां करें कॉल, दो महीने में आए 10 लाख ऑर्डर

अगर स्त्रियों की मन की बाते करे तो इसे आजतक कोई नहीं समझ पाया है, खास करके पुरुष तो बिलकुल भी नहीं। लेकिन चाणक्य  नीति के अनुसार ऐसा बताया गया है की स्त्रियों का मन बटा हुआ होता है, मतलब ये की वो देखती एक पुरुष के तरफ है, बात किसी और से करती हैं और सोचती किसी तीसरे के बारे में है। ऐसे में तीनों पुरुषों को लगता है की वो सूंदर स्त्री उनसे प्यार करती है, जबकि ऐसा है भी या नहीं ये समझ पाना बहुत मुश्किल होता है।

Also Read : सजा या मजा! यहां पॉर्न वीडियो देखकर एक दिन में कमाए जा सकते हैं लाखों रुपए

सदियों से ऐसा होता आया है की चाहे कितनी भी विपत्ति आये लेकिन अगर एक स्त्री किसी पुरुष को वश में कर लें तो फिर वो उस स्त्री का कोई कुछ नहीं बिगाड़ पाता। स्त्रियों को खूब भली भांति पता होता है की कैसे मुश्किल वक़्त में किसकी मदद ली जा सकती है।

शास्त्रों में भी लिखा है की लालच करने वाले मनुष्य का कोई भविष्य नहीं होता। इसी प्रकार वैसे मर्द जो स्त्रियों की इच्छा रखते हैं और उन्हें भोग विलास का वस्तु समझते हैं वो सदैव स्त्रियों के इशारे पर या उनके कहे अनुसार चलने पर मजबूर रहते हैं। ऐसे मनुष्य स्त्री सुख पाने के लिए उनकी किसी भी बात को मान सकते हैं और जैसा वो कहे वही करते हैं।

Also Read : अगर बनाने जा रहे हैं गर्लफ्रैंड या करने जा रहे हैं शादी तो इसे जरूर पढ़ते जाएं

मर्द जब अपनी जमीर और अपना आत्मा सम्मान किसी स्त्री के हाथों सौंप देते है तो उनका जीवन कारागार में जीवन व्यतीत कर रहे व्यक्ति की तरह हो जाता है जो अपनी मर्जी अनुसार कुछ नहीं कर सकता। इस स्थिति का स्त्री फ़ायदा उठाती हैं और पुरुषों को जैसे मर्जी वैसे इस्तेमाल करती हैं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *