Friday , October 19 2018

इस रंग का रक्षासूत्र होता है सबसे शुभ, यह है सही समय

रक्षाबंधन का हमारे हिंदू धर्म में बहुत महत्व होता है, इस महीने रक्षाबंधन 26 अगस्त को मनाया जा रहा है, बहने इस दिन का बेसब्री से इंतज़ार करती है और अपने भाईओं के लिए कई रंगों के रक्षासूत्र खरीदती है। ऐसा कहा जाता है की इस दिन द्रौपदी ने भगवान कृष्ण को रक्षा सूत्र के रूप में अपने अंचल का टुकड़ा बांधा था, इसी प्रथा को देखते हुए बहने अपने भाईओं के कलाई में राखी बांधती है और अपने भाई के लम्बी उम्र के लिए प्रार्थना करती है। लेकिन क्या कभी हमने सोचा की राखी कैसी या कौन से रंग की होनी चाहिए तो आयिए हम आपको बताते है की रक्षासूत्र कैसा होना चाहिए।

रक्षासूत्र या राखी कैसी होनी चाहिए – रक्षासूत्र तीन धागों का होना चाहिए। लाल पीला और सफेद अन्यथा लाल और पीला धागा तो होना ही चाहिए। रक्षासूत्र में चन्दन लगा हो तो बेहद शुभ होगा। कुछ न होने पर कलावा भी श्रद्धा पूर्वक बांध सकते हैं। इस बार 26 अगस्त को है। इस दिन भद्रा नहीं रहेगी। लेकिन पूर्णिमा तिथि शाम 05:26 तक ही रहेगी। इसलिए इस बार रक्षाबंधन का पर्व सुबह 06:10 से शाम 05:25 के बीच मनाना शुभ रहेगा। साथ ही इसी समय में राखी बांधना भी उचित रहेगा।

ऐसे मनाएं रक्षा बंधन का पावन त्यौहार – थाल में रोली, चन्दन, अक्षत, दही, रक्षासूत्र, और मिठाई रखें। घी का एक दीपक भी रखें, जिससे भाई की आरती करें। रक्षा सूत्र और पूजा की थाल सबसे पहले भगवान को समर्पित करें। रक्षासूत्र बंधने के समय भाई और बहन का सर खुला नहीं होना चाहिए। अशुभ माना जाता है। रक्षा बंधवाने के बाद माता पिता और गुरु का आशीर्वाद लें तत्पश्चात बहन को सामर्थ्य के अनुसार उपहार दें। उपहार मैं ऐसी वस्तुएं दें जो दोनों के लिए मंगलकारी हो सके। काले वस्त्र या तीखा या नमकीन खाद्य नहीं देना चाहिए।

loading...